[ad_1]

अमेरिकी कांग्रेस सदस्यों ने पाकिस्तान के राजदूत असद मजीद खान को तलब कर पाकिस्तान सरकार से कहा कि डैनियल पर्ल के मामले में हत्यारे की रिहाई की पूरी समीक्षा’ की जाए।

बता दें कि अमेरिका की धमकी के बाद पाकिस्तान ने अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल के हत्यारे अहमद उमर सईद शेख को जेल की बजाय सेफ हाउस में रखा है, जहां उसे तमाम सुविधाएं दी जाएंगी।

इससे पहले, इस्लामाबाद में अमेरिकी दूतावास की ओर से बयान जारी कर कहा गया कि अमेरिका अपने नागरिक और वॉल स्ट्रीट जर्नल के पत्रकार डेनियल पर्ल को इंसाफ दिलाकर रहेगा। पर्ल के हत्यारों के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं। हमने पाकिस्तान सरकार को बता दिया है कि पर्ल के हत्यारों की रिहाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल 2002 में पाकिस्तान गए थे, वहां आतंकी संगठन अल-कायदा और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के संबंधों पर स्टोरी के लिए जानकारी जुटा रहे थे। इस दौरान उन्हें आतंकी संगठन और खुफिया एजेंसी के संबंधों के सबूत मिल भी गए थे। तभी पर्ल को अगवा कर लिया गया और कई टॉर्चर करने के बाद सिर काटकर हत्या कर दी गई।



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here