[ad_1]

Kirron Kher Suffering From Multiple Myeloma:अपनी दमदार अदाकारी से लोगों के दिल में जगह बनाने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस और चंडीगढ़ से भाजपा सांसद किरण खेर, मल्टीपल Myeloma नाम के एक रोग से जूझ रही हैं। इस बात की जानकारी खुद उनके पति अनुपम खेर ने इंस्टाग्राम पर एक नोट शेयर करके फैंस को दी। अनुपम खेर ने लिखा, ‘अफवाहें लोगों को परेशान ना करें इसलिए मैं और सिकंदर सभी को बताना चाहते हैं कि किरण मल्टीपल Myeloma से पीड़ित पाई गई हैं, जो कि एक तरह का ब्लड कैंसर है। वह फिलहाल अपना इलाज करवा रही हैं और हमें पता है कि वह इससे पहले से ज्यादा ताकतवर होकर बाहर निकलेंगी’।

क्या है Multiple Myeloma?
मल्टीपल Myeloma एक दुर्लभ बीमारी है,जो एक प्रकार का ब्लड कैंसर है। यह बीमारी शरीर में प्लाज्मा कोशिकाओं को प्रभावित करती है। स्वस्थ प्लाज़्मा कोशिकाएं संक्रमण से लड़ने और एंटीबॉडीज को बनाने में मदद करती हैं, वहीं Myeloma जैसे कैंसर से पीड़ित प्लाज्मा कोशिकाएं स्वास्थ्य कोशिकाओं पर जमा हो जाती हैं और असामान्य प्रोटीन बनाती हैं, जो संक्रमण से नहीं लड़ते और आगे चलकर जटिलताएं पैदा करते हैं। साधारण भाषा में समझे तो, मल्टीपल Myeloma एक तरह का ब्लड कैंसर है जो शरीर के प्लाज्मा सेल्स के भीतर होता है। ये सेल्स आमतौर पर शरीर के बोन मैरो के भीतर पाए जाते हैं और इम्यून सिस्टम का हिस्सा होते हैं। ऐसे में अगर किसी व्यक्ति को मल्टीपल माइलोमा हो जाए तो उसके बोन मैरो में प्लाज्मा सेल्स जमा होने लगते हैं, जिससे ब्लड सेल्स का उत्पादन प्रभावित होता है। 

Multiple Myeloma के लक्षण-
-हड्डियों में लगातार दर्द की शिकायत रहना
-जी मिचलाना
-कब्ज
-एनीमिया
-भूख में कमी
-मानसिक उलझन
-थकान
-बार-बार इंफेक्शन होना
-तेजी से वजन घटना
-आपके पैरों में कमजोरी या सुन्नता
-अत्यधिक प्यास लगना
-किडनी से जुड़ी समस्याएं 

Multiple Myeloma का कारण-
डॉक्टरों द्वारा अभी तक इस बीमारी के होने का कोई स्पष्ट कारण नहीं बताया गया है। बावजूद इसके कुछ ऐसे कारक बताए गए हैं, जिनकी वजह से माना जाता है कि Multiple Myeloma नाम का यह रोग होने का खतरा बढ़ जाता है। जैसे-35 साल से अधिक उम्र का होना, मोटापा, जेनेटिक, शरीर में कैल्शियम की कमी, एनीमिया आदि कारण हो सकते है। 

कैसे करें डायग्नोज-
मल्टीपल Myeloma के लक्षण नजर आते ही रोगी एक्स रे, सीबीसी, यूरिन की जांच, सीटी स्कैन, पीईटी स्कैन या फिर एनआरआी द्वारा पता लगाकर डॉक्टर की सलाह ले सकता है। मल्टीपल Myeloma के बारे में सटिक पुष्टि बायोप्सी द्वारा ही की जाती है। 

मल्टीपल Myeloma का इलाज-
मल्टीपल Myeloma नाम के इस ब्लड कैंसर का इलाज दवाओं के साथ-साथ कीमोथेरेपी, रेडएशन थेरेपी, ब्लड और यूरीन टेस्ट, बोन मैरो बायोप्सी, इमेजिंग, स्कैन्स, एक्स-रे और जीनोम सीक्वेंसिंग की मदद से किया जाता है। कौन सा इलाज आपके लिए ठीक है, इस बात का पता कैंसर की स्टेज के ऊपर निर्भर करता है। 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here