[ad_1]

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के पूर्व नेता मंजीत सिंह जीके ने सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर को कानूनी नोटिस भेजकर अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा किसानों के खिलाफ किए गए कथित अपमानजनक ट्वीट को लेकर उनका एकाउंट तुरंत बंद करने की मांग की है। ईमेल के जरिये महाराष्ट्र में ट्विटर के प्रबंध निदेशक को भेजे गए कानूनी नोटिस में कहा गया है कि अभिनेत्री का पोस्ट तथ्यात्मक रूप से गलत है एवं किसानों और उनसे जुड़े पूरे सिख समुदाय की छवि को नुकसान पहुंचाता है। यह नोटिस अधिवक्ता नगिंदर बेनीपाल के जरिये भेजा गया है।

यह नोटिस केंद्र सरकार द्वारा पारित और राष्ट्रपति द्वारा मंजूरी प्राप्त तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों एवं सिख समुदाय पर कथित हमले के लिए भेजा गया है। इसमें कंगना के ट्वीट का संदर्भ देते हुए कहा गया कि दो फरवरी को उन्होंने अंतरराष्ट्रीय पॉप गायिका रिहाना के ट्वीट, ”क्यों हम इस पर बात नहीं करते! किसान प्रदर्शन के जवाब में ट्वीट किया, ”कोई बात नहीं कर रहा है क्योंकि वे किसान नहीं हैं, वे आतंकवादी हैं जो भारत का बंटवारा करना चाहते हैं ताकि चीन हमारे असुरक्षित खंडित देश पर कब्जा कर ले और अमेरिका की तरह चीनी उपनिवेश बना ले।”

नोटिस में कहा गया है कि अभिनेत्री अपनी लोकप्रियता का इस्तेमाल किसानों और उनसे जुड़े सिख समुदाय की मानहानि करने की कोशिश में कर रही हैं, उन्होंने उन्हें आतंकवादी बताकर राष्ट्र विरोधी घोषित किया।
बेनीपाल ने नोटिस में कहा, ”मेरा मुवक्किल देश की एकता, किसानों एवं पूरे सिख समुदाय को लेकर चिंतित है एवं इसकी सुरक्षा को लेकर गंभीर है एवं किसानों के खिलाफ इस तरह का मानहानि करने वाला, झूठा, दुर्भावनापूर्ण बयान स्वीकार नहीं करेगा।

नोटिस में कहा गया है, ”यदि कथित ट्वीट हटाए नहीं जाते और आप उनके एकाउंट को बंद नहीं करते तो आपको मानहानिकारक सामग्री के लिए जिम्मेदार माना जाएगा और इस तरह हमारे पास कानून के अनुरूप उचित कानूनी कार्यवाही शुरू करने का अधिकार होगा।”

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here