[ad_1]

हम अक्सर अपने व्यंजनों को एक बेहतरीन सुगंध प्रदान करने के लिए इलायची का इस्तेमाल करते हैं। यह न सिर्फ आपके व्यंजनों में मीठी सुगंध जोड़ती है, बल्कि यह उनके स्वाद को भी बेहतर बनाती है। हम में से ज्यादातर लोग किसी न किसी रूप में इलायची का सेवन जरूर करते हैं। चाहें वह चाय की चुस्कियों की बात हो या अपने व्यंजनों में मसाले की।

 

लेकिन इलायची का सेवन करते समय क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की है, कि इसका आपके स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ सकता है? खैर, यह आपके स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल सुरक्षित है। यह न सिर्फ आपके शारीरिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है, बल्कि यह आपके मानसिक स्वास्थ्य के साथ ही सेक्सुअल हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है।

 

चलिए हम आपको इलायची के 5 स्वास्थ्य लाभों के बारे में बताते हैं।

 

1. पाचन में सुधार करती है इलायची 

एक भारतीय अध्ययन के अनुसार, इलायची का उपयोग व्यंजनों में सिर्फ स्वाद के लिए ही नहीं, बल्कि पाचन को बढ़ाने के लिए भी किया जा सकता है। यह मसाला भी पाचनतंत्र को उत्तेजित करता है, क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं।

 

इलायची को पेट में पित्त एसिड के स्राव को प्रोत्साहित करने, पाचन में सहायता और उचित वसा चयापचय के लिए भी जाना जाता है। यह मसाला अन्य गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल बीमारियों जैसे एसिड रिफ्लक्स, हार्ट बर्न, डायरिया इत्यादि जैसी समस्याओं से राहत पाने में भी मदद करता है।

 

heart health

 

2. हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है

इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं। इलायची में फाइबर भी होता है, ये पोषक तत्व कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। यह मसाला ब्लड प्रेशर के स्तर को भी कम कर सकता है, जिससे आपके हृदय को लाभ होता है।

 

यह भी पढ़ें: अगर आपका भी मूड नहीं बन रहा है, तो ये 6 टिप्स करेंगी आपको हॉर्नी महसूस करवाने में मदद

 

दिल की सेहत की बात करें, तो काली इलायची, हरी इलायची की तुलना में अधिक फायदेमंद होती है। इस्केमिक हृदय रोग के रोगियों पर किए गए एक अध्ययन में उनके प्लाज्मा लिपिड प्रोफाइल और एंटीऑक्सिडेंट की स्थिति और फाइब्रिनोलिटिक गतिविधि (एक ऐसी प्रक्रिया जो रक्त के थक्कों को बढ़ने और समस्या पैदा करने से रोकती है) को बेहतर बनाने के लिए काली इलायची को उन्हें खुराक के रूप में दिया गया था।

हार्वर्ड मेडिकल स्कूल की एक रिपोर्ट के अनुसार, इलायची उन इंग्रीडियंट्स में से एक है जिसे हृदय विशेषज्ञ आमतौर पर अपने रात्रिभोज में शामिल करते हैं।

 

3. कैंसर की रोकथाम में मदद करती है

इलायची ने एक प्राकृतिक कैंसर उपचार के रूप में अपनी क्षमता का प्रदर्शन किया है। कई जानवरों के अध्ययन से पता चला है कि इस मसाले का उपयोग कैंसर के गठन को रोकने, देरी करने और यहां तक ​​कि रिवर्स गठन के लिए किया जा सकता है।

 

सऊदी अरब के एक अध्ययन के अनुसार, इलायची पाउडर के इस्‍तेमाल  ने ट्यूमर की घटना को कम कर दिया था। इलायची सामान्य सूजन को भी कम करती है, जो कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकती है और उनके पतन को प्रोत्साहित करती है। एक अन्य सऊदी अरब अध्ययन में कहा गया है कि इलायची में पेट के कैंसर के इलाज की क्षमता है।

 

stress

 

4. अवसाद से लड़ने में मदद करती है

अवसाद से राहत पाने में इलायची बेहतर लाभकारी साबित हो सकती है। एक स्वास्थ्य रिपोर्ट के अनुसार, इलायची वास्तव में लोगों को अवसाद से निपटने में मदद कर सकती है। बस इलायची के कुछ बीजों का पाउडर बनाएं। और उन्हें अपनी रोजमर्रा की चाय में शामिल में करें। बेहतर परिणाम के लिए नियमित रूप से चाय का सेवन करें।

 

यह भी पढ़ें: 40 के बाद भी अपनी सेक्स लाइफ को बेहतर बनाना चाहती हैं, तो फॉलो करें ये 4 टिप्स

 

5. सेक्सुअल हेल्थ में सुधार करती है

इलायची एक सिद्ध कामोद्दीपक (aphrodisiac) है। यह मसाला सिनोल (cineole) नामक एक यौगिक में समृद्ध है। इलायची पाउडर की सिर्फ एक छोटी सी चुटकी तंत्रिका उत्तेजक जारी कर सकती है, और आपके जुनून को ईंधन प्रदान कर सकती है। कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि इलायची नपुंसकता का भी इलाज कर सकती है।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here