[ad_1]

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरभ गांगुली अब स्वस्थ हैं और उनका कोरोना टेस्ट भी नेगेटिव आया है, लेकिन उन्हें सामान्य जीवन में लौटने में तीन-चार सप्ताह का समय लगेगा। पूर्व भारतीय कप्तान गांगुली दक्षिण कोलकाता स्थित बेहाला में अपने निवास में शनिवार की सुबह जिम में वर्कआउट कर रहे थे जहां अचानक सीने में दर्द की शिकायत के बाद वह अचेत हो गए जिसके बाद उन्हें वुडलैंड्स अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया गया था। अस्पताल में उनकी गहन चिकित्सा जांच की गई और प्रारंभिक एंजियोप्लास्टी भी हुई।

वुडलैंड्स अस्पताल की सीईओ डॉ रुपाली बासु ने गांगुली के स्वास्थ्य की ताजा जानकारी देते हुए रविवार को बताया कि गांगुली फिलहाल स्वस्थ हैं। उनकी एंजियोप्लास्टी की गई थी जिसमें उनकी धमनी में तीन ब्लॉक पाए गए। डॉ बासु ने कहा कि मेरी उनसे सुबह मुलाकात हुई तथा मैंने उनसे बात भी की। उनके साथ उनकी पत्नी डोना और भाई स्नेहाशीष थे। गांगुली अपने परिवार के साथ समय बिता रहे हैं और जब मैं उन्हें देखने पहुंची तो वह नाश्ता कर रहे थे।

इलाज के दौरान BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली का हुआ कोरोना टेस्ट, जानें क्या आई रिपोर्ट

उन्होंने कहा कि जब उन्हें सीने में दर्द उठा तो उस समय वह जिम में थे। इसके बाद उन्हें करीब एक बजे अस्पताल लाया गया और उनकी जांच की गई। जांच में हमने पाया कि उनका हृदय ठीक से काम नहीं कर रहा है। हमने एंजियोप्लास्टी की जिसमें धमनी में ब्लॉक का पता लगा जिसे स्टेंट डालकर ठीक किया गया है। लेकिन अभी भी दो ब्लॉक हैं जिन्हें ठीक करना है।

डॉ बासु ने कहा कि हम फिलहाल सर्जरी के बारे में नहीं सोच रहे हैं क्योंकि गांगुली की उम्र कम है और एंजियोप्लाटी भी एडवांस हो गई है। लेकिन हम देश के सर्वश्रेष्ठ कार्डियोलॉजिस्ट की राय ले रहे हैं और इसके बाद ही धमनी में दो ब्लॉक का क्या करना है इस पर कोई फैसला लेंगे। एक बार यह ठीक हो जाए तो तीन-चार सप्ताह में गांगुली सामान्य जीवन में लौट सकते हैं और हम सभी यही चाहते हैं कि दादा जल्द सक्रिय जीवन में लौटें।

BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली की हुई एंजियोप्लास्टी, हार्ट अटैक के बाद अस्पताल में हुए थे भर्ती

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here