[ad_1]

दक्षिण कोरिया की वाहन निर्माता कंपनी Hyundai इस समय भारतीय बाजार में अपने 25 साल पूरे होने का जश्न मना रही है। कंपनी यहां के मार्केट में अपने व्हीकल पोर्टफोलियो को बेहतर बनाने के लिए लगतार प्रयासरत है। अब कंपनी के व्हीकल लाइन-अप में एक और नई कार जुड़ने जा रही है। हाल ही में i20 N Line को टेस्टिंग के दौरान स्पॉट किया गया है। 

हालांकि इस कार को यहां के बाजार में उतारे जाने के बारे में कंपनी की तरफ से कोई आधिकारिक जानकारी साझा नहीं की गई है। लेकिन हाल ही में इस कार को तमिलनाडु के माउंट रोड पर टेस्टिंग के दौरान स्पॉट किया गया है। Hyundai i20 यहां के मार्केट में मारुति बलेनो और टाटा अल्ट्रॉज जैसी कारों को टक्कर देती है, ये नया N Line वेरिएंट इस कार के टॉप पोजिशन पर पेश की जा सकती है। 

hyundai i20 n line

टेस्टिंग मॉडल को आगे और पीछे की तरफ से कवर किया गया था। लेकिन बावजूद इसके कार के डिजाइन इत्यादि के बारे में कुछ जानकारियां सामने आई हैं। इस कार में कंपनी ने 17 इंच का एलॉय व्हील दिया गया है। जहां तक इंजन की बात है तो इसमें 1.0 लीटर की क्षमता का टर्बो पेट्रोल इंजन दिया गया है जो कि 118 bhp की पावर जेनरेट करता है। ये इंजन 6 स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन गियरबॉक्स के साथ आता है। 

Hyundai i20 N Line को कंपनी ने स्पोर्टी लुक और डिजाइन दिया है, जो कि रेगुलर मॉडल से काफी अलग है। कार के भीतर सीट्स ‘N’ लोगो दिया गया है, गियर शिफ्टिंग नॉब पर लैदर और रेड कलर से स्टीचिंग की गई है। इसके अलावा मेटल पैडल्स के साथ ही ब्लूलिंक टेक्नोलॉजी को भी इस कार में शामिल किया गया है। 

यह भी पढें: Kabira Mobility ने लॉन्च की दो नई इलेक्ट्रिक बाइक्स, 150Km की ड्राइविंग रेंज

मौजूदा समय में Hyundai i20 का थर्ड जेनरेशन मॉडल यहां के बाजार में उपलब्ध है। जो कि दो पेट्रोल और एक डीजल इंजन विकल्प के साथ आती है। इसकी कीमत 6.79 लाख रुपये से लेकर 11.32 लाख रुपये के बीच है। नए N Line की टेस्टिंग से कयास लगाए जा रहे हैं कि कंपनी इस कार को यहां के बाजार में भी उतार सकती है, फिलवक्त इस बारे में कंपनी ने अभी कोई जानकारी साझा नहीं की है। 

इसके साथ ही हुंडई देश में कम कीमत वाले इलेक्ट्रिक वाहन को पेश करने की व्यवहार्यता का अध्ययन कर रही है। हुंडई इंडिया के प्रबंध निदेशक एस. किम ने हमारे सहयोगी वेबसाइट HT Mint से बात करते हुए कहा कि “कम बजट के इलेक्ट्रिक वाहन लाना हमारी पहली प्राथमिकता है। हमारे पास उत्पाद और तकनीक है, और हम यहां भारतीय बाजार की स्थिति और बुनियादी ढांचे की स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं। हम कुछ विकल्पों के साथ आएंगे, जो भारतीय बाजार के लिए सबसे अच्छा होगा।” 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here