[ad_1]

बिहार में नीतीश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सह भाजपा नेता मंगल पांडेय ने कहा है कि राजद की दाल न बंगाल में गल रही, न केरल में। नेता प्रतिपक्ष तो ऐसे शेखी बघार रहे थे, जैसे केरल और बंगाल में सत्ता संभालने का उन्हें आमंत्रण मिल चुका हो। दावा किया कि पश्चिम बंगाल में परिवर्तन की लहर चल रही है और भाजपा दो सौ सीटों पर जीत हासिल करेगी।   

बुधवार को जारी बयान में मंत्री ने कहा कि राजद को न बंगाल में दीदी पूछ रहीं हैं, न केरल में कांग्रेस। जबकि बिहार विधानसभा चुनाव में लाल झंडा और कांग्रेस-राजद के साथ मिलकर चुनाव लड़े थे। असल में विपक्षी कुनबे में शामिल सभी दल मतलब के साथी हैं। ये सभी हारे हुए लोग हैं, जो सिर्फ ‘ठग विद्या’ जानते हैं। ये बिहार की जनता को ठगने चले थे। लेकिन, बिहार की होशियार जनता पर जब इनकी विद्या काम नहीं आयी, तो अपनी ‘ठग विद्या’ का इस्तेमाल आपस में ही करने लगे। 

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल की जनता प्रधानमंत्री के नेतृत्व में चहुमुंखी विकास की आस में है, इसलिए वह भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में गोलबंद हो चुकी है ताकि विकास की मुख्यधारा से बंगाल सीधी तरह जुड़ सके। हकीकत है कि विपक्षी दलों ने कभी भी जनहित के बारे में नहीं सोचा। सिर्फ अपने लाभ के लिए जनता की भावनाओं से खिलवाड़ किया। लेकिन, जो जैसा करता, वह वैसा ही पाता है। आज जनता के बीच विपक्षी दलों की कोई साख नहीं है। 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here