[ad_1]

फर्जी ऐप्स से बचने के लिए स्मार्टफोन यूजर्स को सलाह दी जाती है कि वे हमेशा गूगल प्ले स्टोर या एप्पल ऐप स्टोर से ही ऐप डाउनलोड करें। लेकिन कई बार यह तरीका भी भारी पड़ जाता है। ऐसा ही कुछ एक एप्पल यूजर के साथ हुआ, जिसने एक फर्जी ऐप्स के चक्कर में अपनी जिंदगी की पूरी कमाई गंवा दी। इस शख्स ने एप्पल ऐप स्टोर (Apple App Store) से बिटकॉइन ऐप डाउनलोड किया था, जो एक फर्जी ऐप निकला। इसे इस्तेमाल करने से शख्स को करोड़ों का चूना लग गया। 

क्या है मामला
वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, Phillipe Christodoulou नाम का शख्स को अपना बिटकॉइन बैलेंस चेक करना था, इसलिए उन्होंने ऐप स्टोर पर Trezor नाम का ऐप सर्च किया। उन्हें एक ऐप दिखाई दिया जिसपर Trezor का ही लोगो था और बैकग्राउंड कलर भी बिलकुल असली ऐप जैसा ही था। फिलिप ने बिना कुछ सोचे यह ऐप डाउनलोड किया और अपनी डीटेल्स दर्ज कर दी। इससे पहले कि वह पता कर पाते ऐप असली है या नकली, वह अपनी 6 लाख डॉलर (करीब 4.3 करोड़ रुपये) की सेविंग्स खो चुके थे। 

यह भी पढ़ें: 1 मिनट में बिक गए ₹1340 करोड़ के Xiaomi स्मार्टफोन्स, दमदार हैं फीचर्स

बता दें कि बिटकॉइन अकाउंट की जानकारी और लेनदेन के लिए trezor एक पॉप्युलर प्लेटफॉर्म है। फिलिप ने जो फर्जी trezor ऐप डाउनलोड किया था उसका डिजाइन काफी हद तक ओरिजनल ऐप जैसा ही था। इस फर्जी ऐप का असली काम लोगों की फाइनैंशियल डीटेल्स लेकर अकाउंट खाली करना था। इसी का शिकार फिलिप भी हुए। 

यह भी पढ़ें: स्मार्टफोन को बिना Flight Mode में डाले, ऐसे रोकें इनकमिंग कॉल, जानें आसान तरीके

ऐप स्टोर पर भी मौजूद हैं फर्जी ऐप्स?
हालांकि यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि फर्जी होने के बावजूद भी यह ऐप एप्पल ऐप स्टोर पर किस तरह पहुंचा। किसी भी ऐप को स्टोर तक पहुंचने के लिए पहले एक रिव्यू प्रोसेस से गुजरना होता है। फिलिप ने कहा कि, ‘ऐप्पल भी इस मामले में पूरी तरह जिम्मेदार है।’ मामले की जानकारी मिलने पर Apple ने कहा कि, ‘हमें बताया गया था कि यह एक क्रिप्टोकरेंसी ऐप नहीं है, बल्कि क्रिप्टोग्राफ़ी ऐप है जो फ़ाइलों को एन्क्रिप्ट करेगा और पासवर्ड स्टोर करेगा। हालांकि, सबमिट करने के बाद यह एक क्रिप्टोकरेंसी ऐप में बदल गया और Apple यह पता लगाने में विफल रहा।’

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here