[ad_1]

किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट कर घिरीं रिहाना समेत विदेशी हस्तियों को एक के बाद एक भारत के प्रमुख लोग जवाब दे रहे हैं। बॉलीवुड से जुड़े तमाम सेलिब्रिटीज के ट्वीट करने के बाद अब भारत रत्न लता मंगेशकर ने रिहाना-ग्रेटा थनबर्ग को जवाब दिया है। उन्होंने कहा है कि हम अपनी समस्याओं को खुद ही सुलझा सकते हैं।

लता मंगेशकर ने ट्वीट कर लिखा है, ”भारत गौरवशाली राष्ट्र है और हम सभी भारतीय सिर ऊंचा करके खड़े हैं। एक गर्व करने वाले भारतीय के रूप में, मुझे पूरा विश्वास है कि जिन मुद्दों या समस्याओं का हम सामना कर रहे हैं, हम उनके लोगों के हित को ध्यान में रखते हुए, उनका समाधान करने के लिए पूरी तरह से सक्षम हैं।” इसके साथ ही उन्होंने भी अपने ट्वीट में इंडिया टुगेदर और इंडिया अगेंस्ट प्रोपेगैंडा हैशटैग का इस्तेमाल किया।

बता दें कि पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन की दिशा में काम करने वालीं ग्रेटा थनबर्ग, अमेरिकी उप राष्ट्रपति कमला हैरिस की भांजी सहित अंतरराष्ट्रीय समुदाय के अनेक लोगों ने केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शनों के प्रति समर्थन व्यक्त किया था। पॉप स्टार रिहाना ने एक खबर साझा की थी जिसमें कई इलाकों में इंटरनेट सेवा बंद करके किसानों के खिलाफ केंद्र की कार्रवाई का जिक्र किया गया था, इसके बाद लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दीं। मंत्रालय ने कहा है कि कुछ निहित स्वार्थी समूह प्रदर्शनों पर अपना एजेंडा थोपने का प्रयास कर रहे हैं और संसद में पूरी चर्चा के बाद पारित कृषि सुधारों के बारे में देश के कुछ हिस्सों में किसानों के बहुत ही छोटे वर्ग को कुछ आपत्तियां हैं।

थनबर्ग ने मंगलवार को ट्वीट किया कि हम भारत में किसानों के आंदोलन के प्रति एकजुट हैं। उन्होंने इसके साथ ही सीएनएन की एक खबर टैग की जिसका शीर्षक था ”प्रदर्शनकारी किसानों और पुलिस में झड़प के बीच भारत ने नई दिल्ली के आसपास इंटरनेट सेवा बंद की।”

इसके जवाब में भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रदर्शन के बारे में जल्दबाजी में टिप्पणी से पहले तथ्यों की जांच-परख की जानी चाहिए और सोशल मीडिया पर हैशटैग तथा सनसनीखेज टिप्पणियों की ललक न तो सही है और न ही जिम्मेदाराना है।



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here