[ad_1]

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के क्रिकेटर और क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मैट के दिग्गज खिलाड़ी क्रिस गेल ने एक बार फिर वह कर दिखाया है, जिसके लिए वह मशहूर हैं। टीम अबू धाबी की ओर से खेलते हुए गेल ने 12 गेंद पर पचासा जड़ा और इस पचासे की खास बात यह थी कि इसमें एक भी गेंद भागकर नहीं लिया गया था। गेल ने पांच छक्के और पांच चौकों की मदद से पचासा जड़ा। गेल ने पहली दो गेंद डॉट खेलीं और इसके बाद अगली 10 गेंदों पर 50 रन ठोक डाले। प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में 12 गेंद पर दो बार पचासा जड़ने वाले गेल दुनिया के पहले क्रिकेटर भी बन गए।

विराट के वापस आने से मेरा काम हो गया है आसानः अजिंक्य रहाणे

टी10 लीग 2021 का 20वां मैच मराठा अरेबियन्स और टीम अबू धाबी के बीच खेला गया। मराठा अरेबियन्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 10 ओवर में चार विकेट पर 97 रन बनाए। जवाब में टीम अबू धाबी ने 5.3 ओवर में ही एक विकेट गंवाकर 100 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया। गेल ने छक्के के साथ अपनी टीम को जीत दिलाई और 22 गेंद पर 84 रन बनाकर नॉटआउट लौटे। गेल ने अपनी पारी के दौरान छह चौके और 9 छक्के लगाए।

रिहाना, ग्रेटा का नाम लिए बिना सचिन तेंदुलकर ने ऐसे दिया मुंहतोड़ जवाब

हाल ऐसा था कि पॉल स्टर्लिंग और जो क्लार्क ने मिलकर महज 11 गेंदों का सामना किया। स्टर्लिंग 5 गेंद पर 11 रन बनाकर आउट हुए, जबकि क्लार्क 5 रन बनाकर नॉटआउट लौटे। गेल ने इस दौरान सोमपाल कामी और मोसादेक हुसैन की गेंदों की सबसे ज्यादा धुनाई की। टी20 क्रिकेट की बात करें तो युवराज सिंह, क्रिस गेल और हजरतुल्लाह जजई ऐसे बल्लेबाज रहे हैं, जिन्होंने 12 गेंद पर पचासा जड़ा है। गेल ने इससे पहले बीबीएल मेलबर्न रेनेगेड्स की ओर से खेलते हुए 12 गेंद पर फिफ्टी ठोकी थी। युवराज सिंह ने यह कारनामा 2007 टी20 वर्ल्ड कप के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ किया था।



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here