[ad_1]

दिल्ली में स्वामी दयानंद अस्पताल के एक वार्ड में गुरुवार शाम को छत के प्लास्टर का बड़ा हिस्सा गिरने से एक बच्चा घायल हो गया। इस घटना के बाद वार्ड में भर्ती मरीजों में भगदड़ मच गई। घायल बच्चे के मामूली चोटें आई हैं। डॉक्टर उसका इलाज कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, पूर्वी दिल्ली नगर निगम (EDMC) के स्वामी दयानंद अस्पताल में सर्जरी और ऑर्थो विभाग के वार्ड नंबर-एक में गुरुवार शाम को छत के एक बड़े हिस्से का प्लास्टर महिला और उसके बच्चे के ऊपर आ गिरा। इस घटना में बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया, जबकि मां बाल-बाल बच गई। साथ ही बेड भी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। हादसे के दौरान मरीजों में भगदड़ मच गई और मरीजों में दहशत बनी हुई है।

ये भी पढ़ें : दिल्ली में 20 महीने की बच्ची धनिष्ठा ने अंगदान कर बचाई 5 लोगों की जान

अस्पताल से जुड़े सूत्रों का कहना है कि जिस वार्ड में यह हादसा हुआ वहां करीब तीन करोड़ रुपये लगात से पुनर्निर्माण कराया जा रहा है। इस संबंध में अस्पताल के चिकित्सा अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

यह हादसा शाम करीब पौने छह बजे उस समय हुआ जब मरीज अपने-अपने बेड्स पर लेटे या बैठे हुए थे। उसी दौरान छत का प्लास्टर भरभरा कर एक महिला और उसके बेटे के ऊपर आ गिरा। प्लास्टर का हिस्सा गिरने पर मां तो बच गई, लेकिन उसका बेटा घायल हो गया। प्लास्टर गिरने पर छत में लगे सरिये दिखाई दे रहे हें।

वार्ड में मौजूद एक मरीज के परिजन ने संवाददाता को फोन पर बताया कि जिस वार्ड में यह हादसा हुआ उसके आस-पास कई दिन से काम चल रहा है। इस संबंध में स्वास्थ्य कमेटी की चेयरमैन कंचन महेश्वरी का कहना है कि हादसे की जानकारी मिलने पर उन्होंने महापौर निर्मल जैन के साथ वार्ड का निरीक्षण किया। उनका कहना है कि मां तथा बच्चा दोनों ही सुरक्षित हैं और बच्चे का मामूली चोटें आई हैं।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here