[ad_1]

अपने शानदार खेल से टीम इंडिया को कई मैचों में यादगार जीत दिलाने वाले स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के पिता का निधन हो गया है। उनके पिता हिमांशु पांड्या को शनिवार की सुबह कार्डियक अरेस्ट आया, जिसे वो सहन नहीं कर सके। हार्दिक और क्रुणाल को इंटरनेशनल क्रिकेट खिलाने में उनके पिता का अहम योगदान रहा था। सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में बड़ौदा की कप्तानी कर रहे क्रुणाल पांड्या को जैसे ही पिता के निधन होने की खबर पता चली, वैसे ही उन्होंने टूर्नामेंट को बीच में छोड़कर घर जाने का फैसला किया। दोनों भाइयों द्वारा पिता खोने पर भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने ट्वीट कर संवेदना जताई है।

विराट कोहली ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ”हार्दिक और क्रुणाल के पिता के निधन की सूचना पाकर मेरा दिल टूट गया है। मैंने उनसे कई बार बात की थी। वो एकदम मस्त और जिंदगी को खुशी के साथ जीने वाले व्यक्तियों में से एक थे। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।”

IND vs AUS: रोहित शर्मा के शॉट सिलेक्शन पर भड़के सुनील गावस्कर, जानें क्या कुछ कहा

हार्दिक ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज से पहले हुई लिमिटेड ओवर सीरीज में टीम में शामिल थे। इस दौरान उनका प्रदर्शन शानदार रहा था। उन्होंने टी-20 सीरीज में यादगार प्रदर्शन करते हुए टीम को सीरीज जिताने में अहम भूमिका निभाई थी। हालांकि, उन्हें टेस्ट सीरीज में जगह नहीं मिली। वो एडिलेड टेस्ट के बाद विराट कोहली के साथ ही ऑस्ट्रेलिया से वापस भारत लौटे थे। वो इस समय इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली सीरीज की जमकर तैयारियां कर रहे हैं।

क्रुणाल इस समय कोरोना प्रोटोकॉल में खेली जारी सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में बड़ौदा टीम की कप्तानी कर रहे थे। इस दौरान टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अभी तक हुए तीनों मैचों में जीत हासिल की थी। उत्तराखंड के खिलाफ पहले मैच में उन्होंने चार विकेट अपने नाम किए थे और 76 रन भी बनाए थे।

क्रुणाल और हार्दिक पांड्या के पिता का हुआ निधन, टूर्नामेंट छोड़कर घर लौटा ऑलराउंडर

 



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here