[ad_1]

ऑस्ट्रेलिया टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन का कहना है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अबतक दोस्ताना माहौल में मुकाबले चल रहे हैं जो हैरान करने वाला है लेकिन उन्हें लगता है कि अब वातावरण थोड़ा गर्म हो रहा है और अगले कुछ दिनों में विस्फोट देखने को मिलेगा। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इससे पहले तक जब भी सीरीज हुई है तो उसमें दोनों पक्षों के बीच माहौल गर्म रहा है। लेकिन इस बार अब तक दो टेस्ट मुकाबले दोस्ताना माहौल में खेले गए हैं। लेकिन ब्रिस्बेन में ताजा प्रतिबंध के कारण टीम इंडिया ने वहां जाने से इंकार किया था और ऐसी स्थिति होने पर सिडनी में ही चौथा टेस्ट खेलने की मांग की थी।

ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज मैथ्यू वेड और गेंदबाज नाथन लायन ने हालांकि भारतीय टीम की इस बात को खारिज करते हुए कहा था कि वह सिडनी के मैदान में लगातार दो टेस्ट खेलने के पक्ष में नहीं हैं। पेन ने तीसरे टेस्ट की पूर्वसंध्या पर बुधवार को कहा कि यह हैरानी की बात है कि यह सीरीज अबतक दोस्ताना माहौल में चल रही है। मेरे ख्याल से ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि हो सकता है कि दोनों टीमें लंबे अंतराल के बाद टेस्ट क्रिकेट की वापसी से खुश हैं। इसमें कोई शक नहीं कि दोनों टीमें एक दूसरे का सम्मान करती हैं।

IND vs AUS: ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसाक गुरुवार को रचेंगी इतिहास, बनेंगी टेस्ट क्रिकेट की पहली महिला अंपायर

उन्होंने कहा कि दोनों टीमें प्रतिस्पर्धी हैं। लेकिन अब वातावरण थोड़ा गर्म हो रहा है और हो सकता है कि तीसरे टेस्ट के दौरान विस्फोट देखने को मिले। मेरे ख्याल से कुछ लोग इसकी शुरुआत कर सकते हैं। हालांकि देखना होगा कि स्थिति कैसी रहती है। एक तरफ जहां भारत बैन के कारण ब्रिसबेन नहीं जाना चाहता तो वहीं दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया की टीम गाबा के मैदान में चौथा टेस्ट खेलना चाहती है।

इसकी बड़ी वजह कंगारु टीम का 1988 से इस मैदान में एक भी टेस्ट मुकाबला नहीं हारना है। इस बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बताया था कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की तरफ से ब्रिसबेन में नहीं खेलने को लेकर कोई ऑफिशियल सूचना नहीं आई है। पेन ने कहा कि मैं यह नहीं कहूंगा कि हम निराश हैं। बस थोड़ी अनिश्चितिता होती है जब आप ऐसी खबर सुनते हैं, विशेषकर भारत से जिसका विश्व क्रिकेट में दबदबा है। हम इस टेस्ट मैच के लिए काफी स्पष्ट हैं। हमें प्रोटोकॉल के बारे में पता है।

सिडनी के मैदान में 43 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने पर भारत की निगाहें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here