[ad_1]

ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर को इंडियन प्रीमियर लीग पसंद है लेकिन उन्होंने पिछले सीजन की टाइमिंग पर सवाल उठाते हुए कहा कि मौजूदा सीरीज में भारत और ऑस्ट्रेलिया के इतने क्रिकेटरों के चोटिल होने में इस लीग का भी योगदान है। कोरोना महामारी के कारण आईपीएल सितंबर से नवंबर के बीच यूएई में खेला गया। आम तौर पर यह अप्रैल मई में भारत में होता है। आईपीएल के बाद से भारत के कई खिलाड़ी चोटिल हैं और ऑस्ट्रेलिया टीम भी फिटनेस की समस्याओं से जूझ रही है।

IND vs AUS: स्टीव स्मिथ की आलोचना करने वालों पर बरसे ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर, जानें क्या कहा

लैंगर ने एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इस सीजन में चोटों की लिस्ट लंबी है। मुझे लगता है कि आईपीएल 2020 की टाइमिंग सही नहीं थी। खास तौर पर इतनी बड़ी सीरीज से पहले तो कतई नहीं। भारत के प्रमुख खिलाड़ी मोहम्मद शमी, के एल राहुल और उमेश यादव तो चोटों के कारण सीरीज से बाहर हुए ही और अब ताजा नाम रवींद्र जडेजा और जसप्रीत बुमराह का भी जुड़ गया है। ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर पहले दो टेस्ट नहीं खेल सके।

नजदीकी मुकाबले में PAK के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कोहली को हराया

लैंगर ने हालांकि आईपीएल की तारीफ करते हुए कहा कि मुझे आईपीएल पसंद है। यह उसी तरह है जैसे मेरे युवा दिनों में काउंटी क्रिकेट था। काउंटी खेलकर क्रिकेट कौशल का विकास होता था और अब आईपीएल से लिमिटेड ओवरों के खेल में निखार आ रहा है। उन्होंने कहा कि लेकिन इस बार टाइमिंग सही नहीं थी। दोनों टीमों में कितने खिलाड़ी चोटिल हैं जो लीग का असर भी हो सकता है।

उन्होंने आगे कहा कि मुझे यकीन है कि इसकी समीक्षा की जाएगी। यह पूछने पर कि बुमराह और जडेजा के नहीं खेलने का कितना असर होगा, उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर काफी असर होगा, लेकिन मुझे लगता है कि अब यह सबसे फिट के बाजी मारने की बात हो गई है। चौथा टेस्ट 15 जनवरी से ब्रिसबेन में शुरू होगा।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here