[ad_1]

भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज 5 फरवरी से चेन्नई में होना है। इस सीरीज में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली छोटे से ब्रेक के बाद क्रिकेट के मैदान पर वापसी करने वाले हैं। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट मैच के बाद विराट पैटरनिटी लीव पर स्वदेश रवाना हो गए थे। विराट के लिए इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली यह सीरीज कई मायनों में बहुत खास हो सकती है। विराट कोहली के पास इस सीरीज के दौरान तीन बड़े रिकॉर्ड्स तोड़ने का मौका होगा, इस दौरान वह वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान क्लाइव लॉयड, ब्रायन लारा को पीछे छोड़ सकते हैं, इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोटिंग से भी आगे निकल सकते हैं।

IPL में विदेशी खिलाड़ियों के सामने नहीं खोलते हैं हम सारे राजः रहाणे

विराट ने क्रिकेट के तीनों फॉर्मैट में कुल 423 मैचों में 22,286 रन बनाए हैं। उनके पास लारा को पीछे छोड़ने का पूरा मौका रहेगा, जिनके नाम 430 मैचों में 22,358 रन हैं। विराट को लारा को पीछे छोड़ने के लिए महज 73 रन की जरूरत है और यह काम वह चेन्नई में पहले टेस्ट में कर सकते हैं।

तीनों फॉर्मैट मिलाकर सबसे ज्यादा सेंचुरी जड़ने का रिकॉर्ड मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज है, जो 100 इंटरनैशनल सेंचुरी ठोक चुके हैं, दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान पोंटिंग हैं, जिनके खाते में कुल 71 सेंचुरी हैं। विराट के खाते में फिलहाल 70 इंटरनैशनल सेंचुरी हैं और इस सीरीज में अगर वह एक सेंचुरी लगाते हैं, तो पोंटिंग की बराबरी कर लेंगे और अगर दो सेंचुरी लगाते हैं, तो पोंटिंग को पीछे छोड़ देंगे।

ट्रॉट ने बताया किस रणनीति से भारत में जीत दर्ज कर सकता है इंग्लैंड

विराट के पास इंग्लैंड के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में कप्तान के मामले में क्लाइव लॉयड से आगे निकलने का मौका भी रहेगा। विराट ने अपनी कप्तानी में 56 मैचों में 33 मैच जीते हैं, जबकि लॉयड ने अपनी कप्तानी में 74 मैचों में 36 मैच जीते हैं। लॉयड की बराबरी करने के लिए विराट को इस सीरीज में तीन टेस्ट जीतने होंगे जबकि लॉयड से आगे निकलने के लिए 4-0 की क्लीन स्वीप करना होगा। टेस्ट में अपनी कप्तानी में सबसे मैच जीतने के मामले में विराट इस समय पांचवें नंबर पर हैं। दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ ने अपनी कप्तानी में 109 टेस्टों में 53 मैच, ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग ने 77 मैचों में 48 टेस्ट, ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ ने 57 टेस्टों में 41 मैच और लॉयड ने 74 टेस्टों में 36 मैच जीते हैं।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here