[ad_1]

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की नीलामी में बिके सबसे मंहगे खिलाड़ी क्रिस मौरिस ने कहा कि आगामी सीजन में चोटिल जोफ्रा आर्चर की अनुपस्थिति में राजस्थान रॉयल्स के तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करना एक अतिरिक्त जिम्मेदारी होगी लेकिन इससे टीम में उनकी भूमिका में कोई बदलाव नहीं होगा। तेज गेंदबाज आर्चर हाल में इंग्लैंड के भारत दौरे के दौरान कोहनी में चोट के कारण आईपीएल के पहले हाफ में नहीं खेल पाएंगे जो राजस्थान रॉयल्स के अभियान के लिए करारा झटका होगा।

आर्चर की अनुपस्थिति में टीम में शामिल हुए नए खिलाड़ी मौरिस तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करने को तैयार हैं। उन्होंने वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘मैं आईपीएल में जिस भी टीम के लिये खेला हूं, मेरी भूमिका नई गेंद और डेथ ओवर में गेंदबाजी करने की रही है। इसमें कोई बदलाव नहीं होता। टीम में हमेशा तेज गेंदबाज मिले हैं और मैं इसमें सहायक की भूमिका निभाता हूं।’

पूर्व सिलेक्टर्स का बड़ा बयान, कहा-वर्ल्ड कप में भारत को रोहित शर्मा-विराट कोहली की जोड़ी के साथ नहीं उतरना चाहिए

मौरिस ने कहा, ‘अगर मैं गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करूंगा तो यह नई भूमिका नहीं होगी और अगर मैं इसमें सहायक की भूमिका निभाता हूं तो भी यह मेरे लिए नई नहीं होगी। लेकिन जब आप आक्रमण की अगुआई करते हो तो इसमें थोड़ी जिम्मेदारी होती है। लेकिन जैसा कि मैंने कहा कि यह मेरे लिए कुछ अलग चीज नहीं होगी।’ राजस्थान रॉयल्स ने पिछले महीने इस दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर को 16.25 करोड़ रुपये की राशि में खरीदा था जिससे वह आईपीएल नीलामी के इतिहास में सबसे ज्यादा राशि में बिकने वाले खिलाड़ी बन गए थे।

जब महंगे खिलाड़ी के टैग से होने वाले दबाव के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह सामान्य ही है कि जब इस तरह का कुछ होता है तो थोड़ा दबाव तो होता है। अगर मैं कहूं कि दबाव नहीं है तो यह झूठ होगा लेकिन मैं बीते समय में भी भाग्यशाली रहा हूं कि मैं काफी बड़ी राशि में ही बिकता रहा हूं।’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन अंत में आपको प्रदर्शन करना होता है, भले ही आप कितनी भी राशि में खरीदे गए हों।’

तीनों सीरीज गंवाकर भी बोले इंग्लिश कोच- मुझे मेरी टीम पर गर्व है

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here