[ad_1]

नेशनल हाईवे ट्रैफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन (NHTSA) ने बुधवार को टेस्ला इंक (Tesla Inc) को 158,000 कारों को वापस बुलाने के लिए कहा है। इस लिस्ट में टेस्ला की मॉडल S और मॉडल X कार शामिल हैं। दरअसल इन गाड़ियों में टचस्क्रीन डिस्प्ले काम नहीं कर रहा है जिस वजह से सेफ्टी रिस्क बढ़ रहा है। 

 

एक ऑटो सुरक्षा एजेंसी ने नवंबर में सुरक्षा जांच को करने के बाद टेस्ला से अनुरोध किया था कि वह 2012 से 2018 के बीच बनी मॉडल एस और 2016 से 2018 में बनी मॉडल एक्स गाड़ियों को अस्थायी रूप से बंद कर दें। क्योंकि इन गाड़ियों में मोटर वाहन सुरक्षा रूल्सेस से संबंधित कई डिफेक्ट पाए गए हैं। 

 

ये भी पढ़ें:- Datsun का धमाका: GO से लेकर Redi-GO जैसी कारों पर मिल रही है बंपर छूट! होगी पूरे 40,000 रुपये तक की बचत

 

टेस्ला ने अभी इस अनुरोध पर कोई जवाब नहीं दिया है, लेकिन कंपनी को 27 जनवरी तक एनएचटीएसए (National Highway Traffic Safety Administration) को जरूर जवाब देना है। यदि टेस्ला गाड़ियों को वापस लेने की बात से सहमत नहीं है तो उसे एजेंसी को अपने निर्णय के बारे में पूरी जानकारी देनी होगी। NHTSA एजेंसी का कहना है कि टचस्क्रीन फेलियर की वजह से कई सेफेटी इशू पैदा हो रहे हैं जिसमें रियरव्यू / बैकअप कैमरा इमेज को नुकसान हो रहा है। 

 

ये भी पढ़ें:- TVS की सबसे सस्ती बाइक Sport हुई और भी महंगी! कंपनी ने इतनी बढ़ाई कीमत

 

NHTSA ने कहा कि टेस्ला ने अपने वाहनों में कुछ इशू को कम करने का प्रयास किया है। कंपनी ने अपनी गाड़ियों में कई ओवर-द-एयर अपडेट लागू किए हैं। लेकिन एजेंसी के मुताबिक ये अपडेट अपर्याप्त हैं। कंपनी को इन वाहनों से जुड़े अपडेटस पर और काम करना चाहिए। NHTSA ने ये भी कहा कि कानून के तहत वाहन निर्माता कंपनियों को सुरक्षा से संबंधित इशू को दूर करने के लिए गाड़ियों को रिकॉल करना या वापस बुलाना जरूरी है।

 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here