[ad_1]

यूपी के 1500 केंद्रों पर कोरोना वैक्‍सीनेशन का फाइनल ड्राई रन शुरू हो गया है। इस दौरान सीएम योगी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए टीकाकरण की स्थितियों का जायजा लिया। आज का ड्राई रन 16 जनवरी से शुरू होने वाले कोविड टीकाकरण अभियान की तैयारियों को परखने की अंतिम कसौटी है। सीएम योगी खुद इस दौर के पूर्वाभ्‍यास की समीक्षा कर रहे हैं। इस दौरान सीएम योगी ने लखनऊ के सिविल अस्‍पताल पहुंचकर ड्राईरन का जायजा भी लिया। इस दौरान उनके साथ स्वास्थ्य विभाग के अफसर मौजूद रहे। सीएम ने अस्‍पताल में चल रहे पूर्वाभ्‍यास और उसकी तैयारियों के बारे में जानकारी ली। उन्‍हें आवश्‍यक दिशा-निर्देश भी दिए। 

सोमवार को ड्राई रन शुरू होने के बाद सीएम योगी ने जिलाधिकारियों से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए बात की। गोरखपुर के डीएम से उन्‍होंने पूछा कि कितने केंद्रों पर ड्राई रन चल रहा है। डीएम ने उन्‍हें बताया कि कुल 51 अस्‍पतालों के 84 केंद्रों पर ड्राई रन चल रहा है। इस बार पहले दौर के ड्राई रन में पाई गई कमियों को दूर कर लिया गया है। अफवाह से बचने के लिए मीडिया का लिया जा रहा है। कल प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया था कि इस फाइनल ड्राई रन को चलाने के पीछे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा यह है कि टीकाकरण के लिए जो तैयारियां की गई हैं, उनमें अगर कहीं कोई कमी रह गई हो तो वह उजागर हो और उसे समय रहते दूर कर लिया जाए। 

सभी जिलों में बनाए गए 1,500 टीकाकरण केंद्रों पर यह ट्रायल किया जा रहा है। लाभार्थियों को एसएमएस भेजा गया है। मैसेज में उन्हें कहां किस टीकाकरण केंद्र पर कितनी बजे पहुंचना है, इसकी जानकारी दी गई है। तीसरी बार पूर्वाभ्यास करने वाला यूपी पहला राज्य है। प्रदेश में इससे पहले दो जनवरी को लखनऊ और फिर पांच जनवरी को प्रदेश भर में कोरोना टीकाकरण का ट्रायल किया जा चुका है।

गोरखपुर में 84 केंद्रों पर हो रहा ड्राईरन, 16 को 20 अस्‍पतालों में लगेगा टीका 
गोरखुपर के 84 केंद्रों पर कोरोना वैक्‍सीनेशन के लिए दूसरा ड्राई रन (पूर्वाभ्यास) शुरू हो गया है। कुल 51 अस्‍पतालों में बनाए गए हैं। 16 जनवरी को जिले के 20 अस्‍पतालों में टीकाकरण की शुरुआत होगी। ड्राई रन के लिए हर बूथ पर दो वैक्‍सीनेटर और उनके सहयोगी तैनात किए गए हैं। इसके अलावा एक व्यक्ति को पंजीकरण के सत्यापन के लिए तैनात किया गया है। दो विशेषज्ञों की ड्यूटी पूर्वाभ्यास के बाद स्वास्थ्य कर्मियों की निगरानी के लिए लगाई गई है। हर बूथ पर दो सुरक्षाकर्मी भी तैनात किए गए हैं।

शहरी सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र शाहपुर पर सुबह 10:35 बजेसे टीकाकरण के लिए स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों एंट्री शुरू हुई। स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को 15 मिनट पहले ही बूथों पर बुलाया गया था। टीकाकरण से पहले पूर्वाभ्‍यास किया गया। वैक्‍सीनेटर ने उन्‍हें इसके बारे में सावधानियों की जानकारी दी। टीकाकरण के बाद करीब 30 मिनट तक टीका लगवाने वाले को विशेषज्ञों की निगरानी में रखा गया। सभी बूथों की निगरानी के लिए 10 नोडल अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

हर बूथ पर 15-15 स्वास्थ्य कर्मियों को बुलाया गया है। पूरे देश में 16 जनवरी से कोविड टीकाकरण की शुरुआत होगी। पहला ड्राई रन पांच जनवरी को छह अस्पतालों के 12 बूथों पर आयोजित किया गया था। हर बूथ पर 25-25 स्वास्थ्य कर्मी (जिन्हें वैक्सीन लगाई जानी है) बुलाए गए थे। इस बार यह पूर्वाभ्यास सभी बूथों पर आयोजित किया जा रहा है।

सभी स्वास्थ्य कर्मियों को मैसेज भेजे गए 
कोविड टीकाकरण के पूर्वाभ्यास के लिए रविवार को ही स्वास्थ्य कर्मियों को बूथ आंवटित कर दिया गया था। यह आवंटन होते ही उन्‍हें पास कोविन पोर्टल से समय व स्थान का मैसेज भी मिल गया। निर्धारित समयानुसार वे अपने तैनाती स्‍थल पर पहुंचे। 

कुल 55 मिनट का लग रहा समय 
टीकाकरण के लिए हर स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी को करीब 55 मिनट लग रहे हैं। दस मिनट पूर्वाभ्यास और उन्हें वैक्सीनेटर द्वारा पांच संदेश दिए जाने के लिए निर्धारित किया गया है। इसके बाद वे 30 मिनट विशेषज्ञों की निगरानी में रह रहे हैं। हर बूथ पर तीन रूम बनाए गए हैं। स्वास्थ्य कर्मियों के पहुंचने पर उन्हें वेटिंग एरिया में बैठाया जा रहा है। वहां उनके पंजीकरण का सत्यापन हो रहा है। इसके बाद उन्हें टीकाकरण कक्ष में ले जाया जा रहा है। हां से वे आब्जर्वेशन कक्ष में भेजे जा रहे हैं। 

सीएमओ बोले-शत प्रतिशत मिलेगी सफलता 
सीएमओ डा.सुधाकर पांडेय ने कहा कि कोरोना टीकों के ड्राईरन के लिए उनकी तैयारियां पूरी हैं। इस बार भी शत प्रतिशत सफलता मिलेगी। सभी का प्रशिक्षण करा दिया गया है। हर बूथ पर सीसी कैमरे लगा दिए गए हैं। हर जगह इमरजेंसी दवाओं की किट पहुंचाई गई है। 10 नोडल अधिकारी हर बूथ पर नजर रख रहे हैं। 
डॉ. सुधाकर पांडेय, सीएमओ

 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here